सोमवार, 20 अगस्त 2012

जब भी मिलता है, बहारों से मिला देता है





हाल दिल का, वो इशारों से बता देता है,
जब भी मिलता है, बहारों से मिला देता है !

किस नज़र देखता है हाय  देखने भर से ,
मेरी नज़रों को नजारों से मिला देता है !          

जब भी आगोश में लेता है तो दरिया बनकर,
प्यास को, गंगा की धारों से मिला देता है  !

जब कभी मुझको वो पाता है जरा भी तनहा,
अपनी यादों के,   सहारों से मिला देता है  !

कितना भी तेज़  हो तूफान वो मांझी बनकर ,
मेरी कश्ती को,   किनारों से मिला देता है  !

हाँ ये सच है की खुदा, खुद नहीं करता कुछ भी,
बस वो 'आनंद' को,  यारों से मिला देता है    !!

           -आनंद द्विवेदी  २३-०५-२०११  

17 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी यह बेहतरीन रचना बुधवार 22/08/2012 को http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जाएगी. कृपया अवलोकन करे एवं आपके सुझावों को अंकित करें, लिंक में आपका स्वागत है . धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं

  2. हाल दिल का, वो इशारों से बता देता है,
    जब भी मिलता है, बहारों से मिला देता है !
    Wah!Kya gazab kee panktiyan hain,,,,harek panktee waise to behad sundar hai.

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह....
    लाजवाब,,,,,
    आपकी ग़ज़लों का जवाब नहीं,...

    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  4. वाह .. बहुत ही खूबसूरत शेर हैं इस गज़ल के ...

    उत्तर देंहटाएं
  5. जब कभी मुझको वो पाता है जरा भी तनहा,
    अपनी यादों के, सहारों से मिला देता है !

    कितना भी तेज़ हो तूफान वो मांझी बनकर ,
    मेरी कश्ती को, किनारों से मिला देता है !
    वाह ... बहुत खूब ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. सही कहा आनंद....

    "हाँ ये सच है की खुदा, खुद नहीं करता कुछ भी,
    बस वो 'आनंद' को, यारों से मिला देता है !!"

    ये सच है लेकिन अगर यार बिछड़ जाएँ तो दोष किसे दें...!!
    अब इंसान दोष लेने से रहा...!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत खूब आनंद.....

    हाँ ये सच है की खुदा, खुद नहीं करता कुछ भी,
    बस वो 'आनंद' को, यारों से मिला देता है !!

    और गर दोस्त बिछड जाएँ तो ये खुदा क्या करेगा...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. दोस्त हैं तो बिछुडेंगे कैसे पूनम जी, भौतिक रूप से दूरी हो सकती है बस !

      हटाएं
  8. हाल दिल का, वो इशारों से बता देता है,
    जब भी मिलता है, बहारों से मिला देता है !
    ...वाह बहुत ही उम्दा शेर !!!!

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत खुबसूरत गजल...
    बेहतरीन..
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  10. एक सच्चे दोस्त की दोस्ती की सोच....बहुत खूब

    उत्तर देंहटाएं
  11. आप सभी मित्रों का हार्दिक आभार !

    उत्तर देंहटाएं