शनिवार, 26 नवंबर 2011

हे राधा माधव हे कुञ्जबिहारी !



हे वृषभान नंदिनी !
लोग कहते हैं
आप और वो
एक ही हैं
एक दूसरे में समाये हुए
अपृथक
ऐसा है तो
आप को तो सब पता ही होगा न
मुझ पर करुणा कर माँ
एक बार ...बस एक बार
बोल उनको
निहार लें उसी बांकी चितवन से
जिससे नज़रें मिलने के बाद
और सब कुछ
भूल जाता है फिर !



और माधव !
तुम
शरणागत को
कैसे डील करते हो यार  ?
"सर्व धर्मान परित्यज्य
मामेकं शरणं ब्रज "
बस बातें लेलो 'तेरह सौ की'
छुड़ाओ न सब ...
मेरे बस का होता तो
क्यों चिरौरी करता
बार बार तुमसे ...

वैसे एक बात बोलूं
तुम्हारी आँखों में न
काजल बहुत जमता है
मैं तो
जब भी देखता हूँ न
सेंटी हो जाता हूँ  !!  :) :)

२६/११/२०११

11 टिप्‍पणियां:

  1. बेहतरीन अभिव्‍यक्ति ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. बेहतरीन शब्द समायोजन..... भावपूर्ण अभिवयक्ति....

    उत्तर देंहटाएं
  3. और माधव !
    तुम
    शरणागत को
    कैसे डील करते हो यार ?
    "सर्व धर्मान परित्यज्य
    मामेकं शरणं ब्रज "
    बस बातें लेलो 'तेरह सौ की'
    छुड़ाओ न सब ...
    मेरे बस का होता तो
    क्यों चिरौरी करता
    बार बार तुमसे ...

    bahut khoob anand bhai.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आपका यूँ सेंटी होना बहुत अच्छा लगा ..:):) अच्छी प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  5. "सर्व धर्मान परित्यज्य
    मामेकं शरणं ब्रज "
    बस बातें लेलो 'तेरह सौ की'
    छुड़ाओ न सब ...

    बस बातें ही बातें....
    जब खुद छुड़ा पाए हैं तो दूसरों का क्या छुडायेंगे...!!
    अपनी जिन्दगी हमें खुद जीनी, है बस प्रार्थना करनी है
    कि हमें शक्ति दे......!! छोड़ना भी हमें है और
    किसी चीज़ को पकड़ते भी हम ही हैं..!! ईश्वर से वो बुद्धि मांगनी है
    जिससे सही-गलत,अच्छे-बुरे की पहचान हम कर सकें....!!

    उत्तर देंहटाएं
  6. और माधव !
    तुम
    शरणागत को
    कैसे डील करते हो यार ?
    "सर्व धर्मान परित्यज्य
    मामेकं शरणं ब्रज "
    बस बातें लेलो 'तेरह सौ की'
    छुड़ाओ न सब ...
    मेरे बस का होता तो
    क्यों चिरौरी करता
    बार बार तुमसे ...

    हर किसी से उसके जैसा बने के ''डील'' किया ...तभी कामयाब रहे ....आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. अच्छी रचना के लिए आपको बधाई । आप हमेशा सृजनरत रहें और मेरे ब्लॉग पर आपकी सादर उपस्थिति बनी रहे । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  8. आज आपकी कई रचनाएँ पढ़ी सभी एक से बढ़ कर एक हैं !
    ढेरों सुभकामनाएँ !

    उत्तर देंहटाएं
  9. I’m really amazed by this blog. Tons of useful posts and info on here. Thumbs up,

    From everything is canvas

    उत्तर देंहटाएं
  10. :) एक अलग से मूड की बड़ी प्यारी रचना!

    उत्तर देंहटाएं